Agni 5 Missile in Hindi 2023: हाल ही में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का सफल परीक्षण किया है। परीक्षण फायरिंग 27 अक्टूबर, 2021 को शाम करीब 7:50 बजे ओडिशा के एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से की गई थी। अग्नि-5 एक परमाणु-सक्षम अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) है जो तीन चरणों वाले ठोस-ईंधन इंजन का उपयोग करती है।

Agni 5 Missile in Hindi 2023

Agni 5 Missile in Hindi 2023

भारत के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अग्नि-5 का सफल परीक्षण भारत की एक विश्वसनीय न्यूनतम निवारक नीति के अनुरूप है जो ‘पहले उपयोग नहीं’ की अपनी प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है। इस मिसाइल का पांच बार सफल परीक्षण किया जा चुका है और यह सेना में शामिल किए जाने की प्रक्रिया में है। पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ चल रहे सीमा गतिरोध के बीच सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का सफल परीक्षण भी किया गया है।

अग्नि V मिसाइलों के बारे में:

मिसाइलें अग्नि-5 बैलिस्टिक मिसाइल अब तक की सभी अग्नि मिसाइलों से हल्की है। इसका वजन 50 हजार किलो है। गोलाई में इसका आकार (व्यास) 6.7 फुट है। वहीं, इसकी लंबाई 17.5 मीटर यानी 57.4 फीट है। परमाणु हथियारों से हमला करने में सक्षम यह मिसाइल अपने साथ 1500 किलो परमाणु हथियार ले जा सकती है। इसे ट्रक की मदद से कहीं भी ले जाया जा सकता है। इसे मोबाइल लॉन्चर से ऑपरेट किया जा सकता है।  इसकी तकनीक इसे और खास बनाती है। यह एक साथ कई अलग-अलग लक्ष्यों को नष्ट करने में सक्षम है।

अग्नि-5 की शक्तियां

अग्नि-5 देश में निर्मित सबसे उन्नत सर्फेस टू सरफेस से मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल है।  यह एक तीन चरण, ठोस ईंधन वाली, 17 मीटर लंबी मिसाइल है और लगभग 1.5 टन के परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है।

अग्नि-5 आग में भूल जाने वाली मिसाइल है, जिसे एक बार फायर करने के बाद इंटरसेप्टर मिसाइल के अलावा इंटरसेप्ट नहीं किया जा सकता है। 

ओडिशा के बालासोर तट पर अब्दुल कलाम परीक्षण केंद्र में अग्नि-5 बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया। इस मिसाइल में रेंज बढ़ाने की तकनीक भी लगाई गई है। चीन की ही बात करें तो यह चीन के बीजिंग, हांगकांग, ग्वांगझू और शंघाई को टक्कर दे सकता है। यह मिसाइल सिस्टम पाकिस्तान के पास नहीं है। यह मिसाइल सिस्टम सिर्फ चीन, रूस, उत्तर कोरिया, अमेरिका और फ्रांस के पास है। मिसाइलों के मामले में भारत पाकिस्तान से काफी आगे है। इसके बाद भारत अग्नि-6 मिसाइल की तैयारी कर रहा है, जिसकी मारक क्षमता 12000 किलोमीटर तक हो सकती है। 

सभी अग्नि मिसाइलों की रेंज

  • अग्नि I: 700-800 किमी की रेंज।
  • अग्नि II: 2000 किमी से अधिक की रेंज
  • अग्नि III: 2,500 किमी से अधिक की रेंज
  • अग्नि IV: इसकी मारक क्षमता 3,500 किमी से अधिक है और यह रोड-मोबाइल लॉन्चर से फायर कर सकती है।
  • अग्नि-5: अग्नि 5 की सबसे लंबी, एक अंतर-महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) है जिसकी रेंज 5,000 किमी से अधिक है।
  • अग्नि-पी (प्राइम): यह एक कैनिस्टर मिसाइल है जिसकी रेंज 1,000 से 2,000 किमी है। यह अग्नि I मिसाइल का स्थान लेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *