विश्व दूध दिवस 2022: तिथि, इतिहास, विषय और तथ्य (World milk day 2022) | विश्व दुग्ध दिवस 2022

विश्व दूध दिवस 2022: तिथि, इतिहास, विषय और तथ्य (World milk day 2022). विश्व दूध दिवस प्रतिवर्ष 1 जून को मनाया जाता है l यह संयुक्त राष्ट्र द्वारा दूध को एक स्वस्थ पेय के रूप में बढ़ावा देने के सफल अभियान की याद दिलाता है। यह 2001 में संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (FAO) द्वारा स्थापित किया गया था।

विश्व दुग्ध दिवस क्या है?

विश्व दुग्ध दिवस दूध और दुग्ध उत्पादों के महत्व का जश्न मनाने का दिन है। यह डेयरी क्षेत्र के सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में जागरूकता बढ़ाने का भी दिन है।

दूध मनुष्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण खाद्य पदार्थों में से एक है। यह बच्चों, वयस्कों और बुजुर्गों के लिए आवश्यक है। वास्तव में, दुनिया भर में लगभग 1 बिलियन लोगों के पास पर्याप्त दूध नहीं है। ऐसा इसलिए है क्योंकि दूध एक महंगी वस्तु है।

ऐसे कई तरीके हैं जिनसे आप विश्व दुग्ध दिवस मना सकते हैं। आप सोशल मीडिया पर दूध के बारे में तस्वीरें या कहानियां साझा कर सकते हैं । आप डेयरी गायों और किसानों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए काम करने वाले चैरिटी संगठनों को भी पैसा दान कर सकते हैं।

विश्व दुग्ध दिवस 2022 थीम

विश्व दुग्ध दिवस 2022 का विषय जलवायु परिवर्तन संकट पर ध्यान आकर्षित करना और डेयरी क्षेत्र ग्रह पर इसके प्रभाव को कैसे कम कर सकता है। इसका उद्देश्य अगले 30 वर्षों में ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करके और डेयरी क्षेत्र को टिकाऊ बनाने के लिए अपशिष्ट प्रबंधन में सुधार करके ‘डेयरी नेट जीरो’ हासिल करना है।

Also-

विश्व दुग्ध दिवस : भारत में श्वेत क्रांति के तथ्य, दूध के स्वास्थ्य लाभ

दूध पीने के क्या फायदे हैं?

दूध स्वस्थ आहार के लिए सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में से एक है। यह न केवल आवश्यक प्रोटीन, वसा और विटामिन प्रदान करता है, बल्कि दूध के कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। यहां कुछ कारण बताए गए हैं कि आपको रोजाना दूध क्यों पीना चाहिए:

  1. दूध कैल्शियम और विटामिन डी प्रदान करता है।
  2. दूध पोटेशियम का अच्छा स्रोत है।
  3. दूध मैग्नीशियम का अच्छा स्रोत है।
  4. दूध फोलेट का अच्छा स्रोत है।
  5. दूध हड्डियों के फ्रैक्चर और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों को रोकने में मदद करता है।
  6. दूध पीने से हृदय रोग और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  7. दूध पीने से आपके मूड और संज्ञानात्मक कार्य को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है।

दूध का इतिहास

दूध का एक लंबा और जटिल इतिहास है। ऐसा माना जाता है कि प्राचीन दुनिया में सबसे पहले दूध का सेवन किया जाता था। प्राचीन भारत में लोग अपने दैनिक आहार में गाय का दूध पीते थे। उस समय गाय के दूध को स्वास्थ्यवर्धक पेय माना जाता था।

समय के साथ, विभिन्न संस्कृतियों ने दूध के विभिन्न उपयोगों को अपनाना शुरू कर दिया। यूरोप में लोग दूध को पेय के रूप में इस्तेमाल करने लगे। वे इसे और अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए इसमें चीनी या अन्य स्वाद मिलाते थे।

लगभग उसी समय, चीन में लोगों ने बीमारी के इलाज के लिए दूध का उपयोग करना शुरू कर दिया। वे गाय के दूध को पानी में मिलाते थे और इसे विभिन्न बीमारियों के इलाज के रूप में पीते थे।

आज पूरी दुनिया में दूध का सेवन किया जाता है। इसका उपयोग क्षेत्र के आधार पर विभिन्न तरीकों से किया जाता है। हालांकि, इसका मुख्य उद्देश्य अभी भी पेय के रूप में सेवन करना है।

दूध के बारे में तथ्य

1. दूध दुनिया भर में कई लोगों के आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।
2. दूध प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन डी सहित पोषक तत्वों का एक स्रोत है।
3. गाय का दूध दुनिया भर में खपत होने वाला सबसे आम प्रकार का दूध है।
4. बहुत से लोग मानते हैं कि स्वास्थ्य कारणों से गाय का दूध अन्य प्रकार के दूध से बेहतर होता है।
5. कुछ लोग गाय के दूध के बजाय अन्य जानवरों, जैसे बकरी या भेड़ के डेयरी उत्पादों का सेवन करना पसंद करते हैं।
6. आज बाजार में कई तरह के दूध उपलब्ध हैं।
7. दुनिया भर के व्यंजनों में दूध का आनंद लेने के कई अलग-अलग तरीके हैं।
8. डेयरी उत्पाद दुनिया भर के कई किसानों के लिए आय का एक मूल्यवान स्रोत हैं।
9. दूध दुनिया भर के कई देशों की संस्कृति और इतिहास का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

दूध का आनंद लेने के तरीके

विश्व दुग्ध दिवस पर दूध का आनंद लेने के कई तरीके हैं! आप एक गिलास ठंडा दूध एक ताज़ा पेय के रूप में ले सकते हैं, इसे व्यंजनों या स्मूदी में इस्तेमाल कर सकते हैं, या इसे सीधे गाय से खा सकते हैं।

आप ब्लेंडर की मदद से घर पर भी दूध बना सकते हैं। बस 2 कप ठंडे पानी में 1 कप कच्चे दूध का पाउडर मिलाएं और मुलायम होने तक ब्लेंड करें। आप एक सॉस पैन में 1 कप कच्चे दूध के पाउडर को धीमी आंच पर गाढ़ा होने तक गर्म करके ओवन में दूध भी बना सकते हैं।

दूध कैल्शियम और विटामिन डी का एक बड़ा स्रोत है, जो मजबूत हड्डियों और स्वस्थ दांतों के लिए आवश्यक है। इसके अलावा दूध एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो कोशिकाओं को नुकसान से बचाता है। तो चाहे आप विश्व दुग्ध दिवस पर दूध पीना चाहें, उसके साथ खाना बनाना चाहें या खाना, इसका आनंद लें!

Also-

दूध पीने का दिन का सबसे अच्छा समय

विश्व दुग्ध दिवस दूध के महत्व और मानव स्वास्थ्य में इसकी भूमिका का जश्न मनाने का दिन है।
दूध पीने के लिए दिन का सबसे अच्छा समय सुबह का होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि सुबह के समय दूध सबसे ज्यादा पचता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि पेट खाली है और इसलिए भोजन को अधिक आसानी से संसाधित कर सकता है। इसके अतिरिक्त, पेट गैस्ट्रिक जूस का उत्पादन करता है जो भोजन को तोड़ने में मदद करता है।

सुबह दूध के अन्य स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। उदाहरण के लिए, यह मूड और सोने के पैटर्न को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए दिखाया गया है। यह हृदय रोग और मधुमेह के जोखिम को भी कम कर सकता है।

दूध को स्टोर और उपभोग करने के तरीके

दूध को स्टोर और उपभोग करने के कई तरीके हैं।
कुछ लोग कार्टन से सीधे दूध पीना पसंद करते हैं। दूध को स्टोर करने का यह सबसे सुरक्षित तरीका है, क्योंकि यह बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है। हालांकि, यदि आपको खाद्य एलर्जी या दूध उत्पादों के प्रति अन्य संवेदनशीलता है तो इस विधि की अनुशंसा नहीं की जाती है।

दूध को स्टोर करने का दूसरा तरीका फ्रिज में है। दूध को स्टोर करने का यह सबसे आम तरीका है, क्योंकि यह इसे ठंडा रखता है और इसके पोषक तत्वों को बरकरार रखता है। दूध को चार दिनों तक फ्रिज में भी रखा जा सकता है।

अंत में, दूध को फ्रीजर में रखा जा सकता है। बर्फ़ीली दूध इसे पिघलना कठिन बना देगा, लेकिन यह अपने पोषक तत्वों को भी बरकरार रखता है और आइसक्रीम व्यंजनों में अक्सर ताजे दूध के बजाय जमे हुए दूध की आवश्यकता होती है।

दूध की खपत को बढ़ावा देने के तरीके

दूध की खपत को बढ़ावा देने का एक तरीका इसे विभिन्न रूपों में उपलब्ध कराना है। उदाहरण के लिए, आप दूध की चाय बनाने या व्यंजनों में इसका उपयोग करने का प्रयास कर सकते हैं।

आप सोशल मीडिया के जरिए भी दूध को बढ़ावा देने की कोशिश कर सकते हैं। आप दूध कैसे बनाते हैं, इसकी तस्वीरें साझा कर सकते हैं और विश्व दुग्ध दिवस के बारे में अपने फेसबुक या इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट कर सकते हैं। यह लोगों के लिए एक व्यवहार्य पेय विकल्प के रूप में दूध को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

दूध को बढ़ावा देने का दूसरा तरीका इसके स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानकारी देना है। आप दूध में निहित पोषक तत्वों के बारे में जानकारी प्रदान करके या दूध के सेवन के स्वास्थ्य लाभों का प्रदर्शन करके ऐसा कर सकते हैं।

हमें उम्मीद है कि ये टिप्स आपको दुनिया भर के लोगों के लिए एक स्वस्थ पेय के रूप में दूध को बढ़ावा देने में मदद करेंगे।

हम विश्व पौधा दूध दिवस क्यों पसंद करते हैं?

  • कम डेयरी का मतलब है बेहतर दुनिया- गाय का दूध लगभग सर्वव्यापी है, लेकिन पशु कृषि से भी बड़ा प्रदूषण और ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन होता है। इससे जलवायु परिवर्तन होता है। कभी-कभी गाय के दूध को पौधे के दूध से बदलकर, हम ग्रह की मदद कर रहे हैं।
  • यह स्वस्थ है – सादा और सरल, पौधे का दूध कैल्शियम, और कम चीनी और कैलोरी गिनती सहित स्वास्थ्य लाभों की एक लंबी सूची प्रदान करता है। इसके अलावा, पौधे के दूध में IFG-1 (गायों को दिया जाने वाला वृद्धि हार्मोन) नहीं होता है, जिसे कैंसर कोशिकाओं के विकास से जोड़ा गया है।
  • यह स्वादिष्ट है- प्लांट मिल्क सोया, बादाम, काजू और चावल से लेकर जई, भांग, सन और नारियल तक कई विकल्पों में आता है। विभिन्न स्वादों की एक बहुतायत के साथ, आप निश्चित रूप से अपने पसंदीदा व्यक्ति को ढूंढ लेंगे

Also-

Findhow HomepageClick Here
Telegram Channel Click Here

Leave a Reply